टाटा एस- भारत में गार्बेज डिस्पोजल के लिए सबसे बढ़िया टिपर ट्रक्स

टाटा एस- भारत में गार्बेज डिस्पोजल के लिए सबसे बढ़िया टिपर ट्रक्स

टाटा मोटर्स | Aug 14, 2018 5:01 am
शेयर: व्हाट्सएप ईमेल लिंकडीन फेसबुक ट्विटर गूगल प्लस

टाटा मोटर्स ऑटोमोबाइल उद्योग में प्रमुख नाम है, जो दो गार्बेज मैनेजमेंट व्हीकल्स प्रदान करता है- एस बॉक्स टिपर और एस हॉपर टिपर. इन आकर्षक हल्के मिनी ट्रकों का उपयोग स्थानीय नगरपालिकाओं द्वारा घरेलू कचरे को इकट्ठा करने के लिए किया जाता है. एस बॉक्स टिपर और हॉपर टिपर की प्रमुख विशेषताएं नीचे दी गई हैं:

1. टाटा एस बॉक्स टिपर:

Tata Ace Garbage Dipper1

एस बॉक्स टिपर कचरा और खतरनाक सामग्रियों के संग्रह, ट्रांसपोर्टेशन और डंपिंग के लिए एक अच्छी तरह से डिज़ाइन किया गया मिनी ट्रक है. यह शहरी क्षेत्रों के भीतर संकरे मोड़ और गलियों से गुजरने के लिए पर्याप्त फुर्तीला है, और पीटीओ-ड्राइव हाइड्रोलिक तंत्र का उपयोग करके कचरे के लोडिंग और अनलोडिंग को सरल बनाता है जो आसान कचरा निपटान के लिए दो रिमोट बटन के साथ उपलब्ध है.

2. टाटा एस हॉपर टिपर:

Tata Ace Garbage Dipper2

टाटा एस परिवार ने एक अन्य कमर्शियल मिनी ट्रक ऐस हॉपर ट्राइपर के लॉन्च के साथ सफलतापूर्वक विस्तार किया है. यह मिनी ट्रक विभिन्न स्थानों से कचरे के संग्रहण और हैंडलिंग में काफी मददगार साबित हुआ है. एडवांस तकनीक द्वारा, यह कचरा टिपर, डिफ्यूजर में सीधे गीले और सूखे अपशिष्ट पदार्थ को अलग करने में सक्षम है. इसकी सख्त स्टील बॉडी और 16एचपी @ 3200आरपीएम की बेहतर गुणवत्ता वाला इंजन पावर इसे लंबे समय के लिए एक टिकाऊ विकल्प बनाता है. एस हॉपर 85 से 89 डिग्री के कोण पर झुका हुआ काफी लचीला होता है जो आसानी से कूड़े को कॉम्पैक्टर में स्थानांतरित कर देता है और कचरे को कुचल देता है.

इस तरह के उपयोगी कमर्शियल व्हीकल से समर्थित, टाटा मोटर्स इस प्रतिस्पर्धी बाजार में आगे बढ़ रहा है. टाटा मोटर्स ने न केवल कुशल वाहनों का विकास किया है, बल्कि गरीबी को ख़त्म करने का और रोजगार के अवसर पैदा करने में भी मदद की है.

हाल के लेख