कमर्शियल ड्राइवर लाइसेंस कैसे पाएं (सीडीएल)

कमर्शियल ड्राइवर लाइसेंस कैसे पाएं (सीडीएल)

टाटा मोटर्स | Nov 15, 2018 5:55 am
शेयर: व्हाट्सएप ईमेल लिंकडीन फेसबुक ट्विटर गूगल प्लस

लॉजिस्टिक्स ट्रांसपोर्टेशन का व्यवसाय शुरू करने के इच्छुक लाखों लोगों की ज़िन्दगी टाटा एस ने बदल दी है. इसके लिए सबसे ज़रूरी है कमर्शियल ड्राइवर का लाइसेंस.

लेकिन ख्याल रहे... ड्राइवर का कैरियर शुरू करना इतना आसान नहीं है. कमर्शियल ड्राइविंग के कैरियर में हर रोज़ कई तरह की बाधाओं का सामना करने की क्षमता चाहिए जैसे बाढ़, भूस्खलन और खराब रास्तों और ढलान से गुज़रते हुए वक़्त पर माल पहुंचाने का दबाव. लेकिन इन रुकावटों को सफलतापूर्वक पार करने का मज़ा ही कुछ और है.

कमर्शियल ड्राइवर्स लाइसेंस क्या है?

कमर्शियल ड्राइवर्स लाइसेंस एक अनिवार्य सरकारी प्रक्रिया है जिसमें ड्राइवर बनने के इच्छुक लोगों को अधिकृत डॉक्युमेंट्स जमा करवाने होते हैं. भारत में, लाइसेंस को तीन वर्गों में बाँटा किया गया है – मोटरसाइकल लाइसेंस, लाइट मोटर व्हीकल लाइसेंस (एलएमवी) और हेवी मोटर विहिकल लाइसेंस (एचएमवी).

अगर आप कमर्शियल ड्राइवर बनना चाहते हैं, तो आपको कमर्शियल ड्राइवर लाइसेंस (सीडीएल) पाने के लिए नीचे दी गई कुछ पात्रता शर्तों को पूरा करना होगा:

शिक्षा: न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता है आठवीं पास. उम्मीदवार में न्यूनतम बौद्धिक स्तर और स्मृति होना भी अनिवार्य है जिससे वो विभिन्न चिह्नों और ट्राफिक के नियमों को समझ सके.

आयु मानदंड: सीडीएल के लिए आवेदन करने वाले उम्मीदवार की आयु १८ वर्ष से अधिक होनी चाहिए. लकिन कुछ राज्यों में न्यूनतम आयु २२ वर्ष है.

सीडीएल के लिए ट्रेनिंग स्कूल: आवेदक के लिए किसी सरकारी मोटर ट्रेनिंग स्कूल से ट्रेनिंग लेना अनिवार्य है. राज्य सरकार से सम्बद्ध मोटर स्कूल से भी काम चल सकता है.

लर्नर्स लाइसेंस (एलएल): ये आवेदक द्वारा लिखित परीक्षा पास करने के बाद दिया जाता है. लर्नर्स लाइसेंस हर कमर्शियल ड्राइवर के लिए अनिवार्य है जो कमर्शियल लाइसेंस के लिए आवेदन करना चाहता है. इस लाइसेंस का धारक व्यक्ति ६ महीने तक कमर्शियल वाहन चला सकता है.

ऑनलाइन या ऑफलाइन आवेदन करें: ज़रूरी डॉक्युमेंट्स के साथ आवेदन को ऑनलाइन या ऑफलाइन जमा करके लाइसेंस की प्रक्रिया शुरू कर सकते हैं.

ड्राइविंग टेस्ट: डॉक्युमेंट्स क्लियर होने के ३० दिन बाद ड्राइविंग टेस्ट के लिए जा सकते हैं. आवेदक के ड्राइविंग कौशल को चीफ ऑफिसर द्वारा मान्य करने पर उसे कमर्शियल ड्राइवर्स लाइसेंस मिल जाता है.

ख्याल रहे कि आवेदन करते समय आपके पास सभी अधिकृत डॉक्युमेंट्स तैयार रहें. ऑनलाइन या ऑफलाइन आवेदन करते समय नीचे दिए गए डॉक्युमेंट्स ज़रूरी हैं:

पहचान का प्रमाण जैसे आधार कार्ड, पासपोर्ट, पैनकार्ड, जन्म प्रमाण पात्र या आपकी तस्वीर के साथ आपकी १०वीं कक्षा की अंक तालिका.

ड्राइविंग लाइसेंस के लिए आवेदन करने के लिए पते का प्रमाण एक और ज़रूरी डॉक्युमेंट है. इसके लिए आप अपना फोन या बिजली का बिल दे सकते हैं.

अपने साथ चार या पाँच पासपोर्ट साइज़ के फोटो ज़रूर ले जाएं.

मेडिकल सर्टिफिकेट भी अनिवार्य हैं. कोई बीमारी पाए जाने पर आपको कमर्शियल ड्राइविंग लाइसेंस के लिए अयोग्य माना जायेगा.

ये हैं कुछ बातें जो अधिकृत ड्राइविंग लाइसेंस प्राप्त करके एक्सपर्ट कमर्शियल ड्राइवर बनने के लिए ज़रूरी हैं.

हाल के लेख